टीएमसी नेता के घर से मिले EVM और वीवीपैट, अफसर को चुनाव आयोग ने किया सस्पेंड

क्राइम जर्नलिस्ट(टीम)

जानकारी के मुताबिक रात में तपन सरकार टीएमसी नेता के घर पर ही सोए थे। आयोग ने तपन सरकार की इस हरकत को दिशानिर्देशों का बड़ा उल्लंघन करार दिया है। मामला सामने आने के बाद आयोग ने तत्काल प्रभाव से तपन सरकार को सस्पेंड कर दिया है और उन्हें इससे भी बड़ी सजा दी जा सकती है। बता दें कि इससे पहले 1 अप्रैल को हुए पश्चिम बंगाल और असम में दूसरे चरण के मतदान के बाद भी विवाद छिड़ गया था। दरअसल असम के करीमगंज में एक बीजेपी कैंडिडेट की कार में ईवीएम मिली थी, जिसे मतदान के बाद स्ट्रॉन्गरूम ले जाया जा रहा था। इसका वीडियो सामने आने के बाद आयोग ने चुनाव प्रक्रिया से जुड़े उन 4 अफसरों को सस्पेंड कर दिया था, जो इसके लिए जिम्मेदार थे।

बीजेपी कैंडिडेट ने टीएमसी पर लगाया गड़बड़ी का आरोप

उलुबेरिया उत्तर सीट से बीजेपी कैंडिडेट ने टीएमसी की ओर से चुनाव में गड़बड़ी करने का आरोप लगाया है। बीजेपी उम्मीदवार चिरन बेरा ने कहा, ‘टीएमसी के बूथ प्रेसिडेंट गौतम घोष के घर से ईवीएम और वीवीपैट मिले हैं। गांव के कुछ लोगों ने टीएमसी नेता के घर के बाहर दो गाड़िया देखीं तो पूछताछ की। जब उन्हें यह पता चला कि टीएमसी नेता के घर सेक्टर ऑफिसर पहुंचे हैं तो उन्होंने मुझे जानकारी दी।’ अब तक इस पूरे मामले पर उत्तर उलुबेरिया सीट से टीएमसी कैंडिडेट निर्मल माजी की ओर से कोई जवाब नहीं मिला है।

टीएमसी नेता के घर के बाहर जुटी भीड़, पुलिस ने हालात को संभाला

पश्चिम बंगाल में तीसरे राउंड में 31 सीटों पर मतदान चल रहा है। ये सीटें हावड़ा, हुगली और दक्षिण 24 परगना की हैं। चुनाव आयोग के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि सेक्टर ऑफिसर टीएमसी नेता के घर सोने चले गए थे, जो उनके रिश्तेदार लगते हैं। उनके साथ ईवीएम और वीवीपैट भी थे। टीएमसी लीडर के घर ईवीएम मिलने के बाद ग्रामीण घर के बाहर जुट गए और प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने भीड़ को हटाया और स्थिति को नियंत्रण में लिया।

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x