मंगल पर नासा के रोवर का एक्शन शुरू, लाल ग्रह से भेजीं रंगीन तस्वीरें, दिखा ऐसा नजारा

क्राइम जर्नलिस्ट(टीम)

नासा ने मौके की कई तस्वीरे साझा की हैं कुछ में उपग्रह से एक व्यू दिख रहा है, जिसमें रोवर नीचे उतरने के पैराशूट फेज़ में है। फोटो हाई-रेज्यूलेशन वीडियो से लिया गया है जिसे स्पेसक्राफ्ट में से बनाया गया था, वही स्पेसक्राफ्ट जो रोवर को लेकर अंतरिक्ष में ले गया है।

इसे बड़ी तकनीकी उपलब्धि के रूप में देखा जा रहा है क्योंकि उपग्रह- मार्स रिकौनसंस ऑर्बिटर- उस वक़्त पर्सिवियरेंस से क़रीब 700 किलोमीटर दूर था और तीन किलोमीटर प्रति सेकेंड की रफ़्तार से ट्रैवल कर रहा था।

पर्सिवियरेंस के इंजीनियर एडम स्टेल्ट्ज़नर जिन्होंने सतह से सिर्फ दो मीटर की दूरी से ये शॉट लिया, उन्होंने कहा, “आप रोवर के इंजनों से उड़ने वाली धूल को देख सकते हैं।” उन्होंने कहा, नीचे की तरफ़ रोबोट को देखने वाला व्यू अंतरिक्ष की खोज के इतिहास की अहम तस्वीर बन जाएगा।

मिशन से जुड़ी रंगीन तस्वीर भी सामने आई है जहां मंगल की सतह दिखाई दे रही है। पर्सिवियरेंस में 23 कैमरे और 2 माइक्रोफोन लगे हैं। एक अन्य रंगीन तस्वीर में रोवर के छह पहिए दिख रहे हैं और कई छत्ते वाली चट्टाने दिख रही हैं जो 3.6 अरब साल से ज्यादा पुरानी हैं।

नासा के इंजीनियर्स ने बताया कि पर्सिवियरेंस की स्थिति एकदम ठीक है और वो अपने आगे कामों के लिए निर्देश दे रहे हैं। नासा के डिप्टी प्रोजेक्ट साइंटिस्ट केटी स्टैक मॉर्गन ने कहा, “एक सवाल जो हम जरूर पूछेंगे वो ये है कि तस्वीर में दिख रही ये चट्टाने ज्वालामुखी मूल की है या अवसादी मूल की।”

अगले हफ्ते सामने आएंगी और तस्वीरें

आने वाले कुछ समय में पर्सिवियरेंस अपना नेविगेशन डंडा बाहर निकालेगा जिस पर खास वैज्ञानिक कैमरे लगे होंगे। जिनसे खास तस्वीरें ली जाएंगी जो अगले हफ्ते सामने आ सकती हैं।

रोवर के उतरने के तुरंत बाद ली गई दो तस्वीर जिन्हें गुरुवार को जारी किया था, वो सीमित डेटा दर उपलब्ध होने के कारण कम रिज़ॉल्यूशन और ब्लैक-एंड-व्हाइट में थे।
नासा को उम्मीद है कि आने वाले दिनों में और अधिक रिज़ॉल्यूशन की तस्वीरें और वीडियो आएंगे, लेकिन अभी तक यह नहीं पता है कि उसने पहली बार माइक्रोफोन का उपयोग करके मंगल पर ध्वनि रिकॉर्ड की है या नहीं।

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x