हाथरस जा रहे राहुल-प्रियंका का काफिला ग्रेटर नोएडा में रोका, पैदल हुए रवाना, पुलिस ने कांग्रेसियों पर किया लाठीचार्ज

क्राइम जर्नलिस्ट(टीम)

*हाथरस जा रहे राहुल-प्रियंका का काफिला ग्रेटर नोएडा में रोका, पैदल हुए रवाना, पुलिस ने कांग्रेसियों पर किया लाठीचार्ज*

नई दिल्ली:हाथरस गैंगरेप मामले को लेकर सियासत तेज हो गई है। पीड़िता के परिजनों से मुलाकात के लिए हाथरस जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के काफिले को पुलिस ने ग्रेटर नोएडा जीरो प्वॉइंट पर रोक दिया है। इसके साथ ही पुलिस द्वारा कांग्रेसी कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज भी किया गया है। प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश की प्रभारी भी हैं। पुलिस द्वारा काफिले की गाड़ियां रोके जाने के बाद राहुल और प्रियंका कड़े सुरक्षा घेरे में अब पैदल ही हाथरस के लिए निकल पड़े हैं।

जानकारी के अनुसार, गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मुलाकात करने के लिए हाथरस जा रहे हैं राहुल और प्रियंका गांधी का काफिला डीएनडी से तो निकल गया, लेकिन ग्रेटर नोएडा जीरो प्वॉइंट पर पहुंचते ही रोक दिया गया। इसके चलते ट्रैफिक जाम लग गया है। राहुल और प्रियंका गांधी को रोकने लिए ग्रेटर नोएडा में जीरो पॉइंट और जेवर टोल प्लाजा पर पर भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। पुलिस द्वारा काफिले की गाड़ियां रोके जाने के बाद राहुल और प्रियंका कड़े सुरक्षा घेरे में अब पैदल ही हाथरस के लिए निकल पड़े हैं।

यूपी में महिलाओं के प्रति बढ़ रहे अपराध के खिलाफ गुरुवार सुबह से ही हजारों की तादाद में कांग्रेस कार्यकर्ता डीएनडी फ्लाईओवर पर भी प्रदर्शन कर रहे हैं। हालात को काबू करने के लिए डीएनडी पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है।

राहुल और प्रियंका के हाथरस दौरे को लेकर यूपी पुलिस अलर्ट हो गई है। कांग्रेस नेताओं को हाथरस जाने से रोकने के लिए पुलिस डीएनडी फ्लाईओवर को बंद कर दिया था, जिसके चलते डीएनडी पर लंबा ट्रैफिक जाम लग गया है। ट्रैफिक जाम के कारण लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
दिल्ली: कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने हाथरस गैंगरेप पीड़िता को न्याय दिलाने की मांग को लेकर आज DND फ्लाईवे पर प्रदर्शन किया।

प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में गैंगरेप और हैवानित की शिकार हुई दलित पीड़िता का पुलिस द्वारा मंगवार देर रात अंतिम संस्कार किए जाने को लेकर बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का इस्तीफा मांगा था और आरोप लगाया कि राज्य की भाजपा सरकार में सिर्फ अन्याय का बोलबाला है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ”रात को 2.30 बजे परिजन गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन हाथरस की पीड़िता के शरीर को उप्र प्रशासन ने जबरन जला दिया। जब वह जीवित थी तब सरकार ने उसे सुरक्षा नहीं दी। जब उस पर हमला हुआ सरकार ने समय पर इलाज नहीं दिया। पीड़िता की मृत्यु के बाद सरकार ने परिजनों से बेटी के अंतिम संस्कार का अधिकार छीना और मृतका को सम्मान तक नहीं दिया। घोर अमानवीयता। आपने अपराध रोका नहीं बल्कि अपराधियों की तरह व्यवहार किया। अत्याचार रोका नहीं, एक मासूम बच्ची और उसके परिवार पर दोगुना अत्याचार किया। योगी आदित्यनाथ, आप इस्तीफा दो। आपके शासन में न्याय नहीं, सिर्फ अन्याय का बोलबाला है।”

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x