बिहार में नए कांग्रेस प्रभारी का ऐसा स्वागत आपस में भिड़ गए नेता, चलीं कुर्सियां; दलालों होश में आओ के नारे

क्राइम जर्नलिस्ट(टीम)

बिहार-बिहार में कांग्रेस के नए प्रभारी भक्‍त चरण दास की मौजूदगी में मंगलवार को सदाकत आश्रम (कांग्रेस कार्यालय) में लगातार दूसरे दिन जमकर हंगामा हुआ। नेताओं ने एक-दूसरे पर आरोपों की झड़ी लगाते हुए जमकर तू-तू, मैं-मैं की। यहां तक की मारपीट की नौबत आ गई। एक-दूसरे पर कुर्सियां फेंकी गईं। नए प्रदेश प्रभारी के सामने एक-दूसरे के सामने आए नेताओं ने आपस में जमकर धक्‍का-मुक्‍की भी की।

मंगलवार को पहले दौर की बैठक शुरू होते ही किसान नेता राजकुमार राजन ने पार्टी के प्रदेश नेतृत्व पर मनमानी और पिछले विधानसभा चुनावों में टिकटों की खरीद-फरोख्‍त का आरोप लगा दिया। उनके ऐसा करते ही बैठक में टोका-टाकी का दौर शुरू हो गया। प्रदेश नेतृत्‍व में शामिल कई नेताओं ने उन्‍हें रोका, चेतावनी दी। नए प्रदेश प्रभारी भक्‍त चरण दास खामोशी से यह सब देखते रहें। उधर, लगातार रोके जाने की कोशिशों को नज़रअंदाज कर राजकुमार राजन बोलते जा रहे थे। इसी बीच कुछ नेता उन्‍हें ललकारते हुए उनकी ओर बढ़ने लगे। जवाब में दूसरे गुट के नेता भी सामने आ गए। इसके बाद बैठक में बातचीत की जगह खींचतान, धक्‍का मुक्‍की और एक-दूसरे पर कुर्सियां फेंकरने का दौर शुरू हो गया।

मंच पर मौजूद नए प्रदेश प्रभारी भक्त चरण दास, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा सहित कुछ वरिष्‍ठ नेता, हंगामा कर रहे नेताओं को शांत कराने की कोशिश करते रहे। काफी जद्दोजहद के बाद किसी तरह माहौल शांत हुआ। इसके बाद बैठक की कार्यवाही आगे बढ़ सकी। गौरतलब है कि सोमवार को भी एक खेमे के नेताओं ने नए प्रभारी के सामने जमकर हंगामा किया था।

बाहरी लोगों ने किया हंगामा
बैठक में हंगामे को लेकर कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता अजीत शर्मा ने आरोप लगाया कि कुछ बाहरी लोग बैठक में घुस आए थे। उन्‍होंने ही हंगामा किया। उन्‍होंने कहा कि ऐसे लोगों की पहचान की जा रही है।

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x