एमएलसी चुनाव: शिक्षक में 72.25 तो स्नातक में 44.83 फीसदी पड़े वोट

Crime Journalist(सम्पादक-सेराज खान)

आशुतोष त्रिपाठी/उमर खान

संवाददाता – आशुतोष त्रिपाठी – रॉबर्ट्सगंज , सोनभद्र -9450716610 –

एमएलसी चुनाव: शिक्षक में 72.25 तो स्नातक में 44.83 फीसदी पड़े वोट

जनपद-सोनभद्र/ एमएलसी चुनाव के लिए मंगलवार को जिले में हुई वोटिंग में शिक्षक निर्वाचन के लिए तो मतदाओं में उत्साह दिखा। लेकिन, स्नातक निर्वाचन में मतदाता उत्साह में शिक्षक निर्वाचन के मतदाताओं से पिछड़ गए। नतीजतन जहां शिक्षक निर्वाचन के लिए कुल 72.25 फीसदी वोट पड़े, वहीं स्नातक निर्वाचन के लिए 44.83 फीसदी ही वोट पड़े।

जिले में शिक्षक निर्वाचन के लिए नौ मतदान केन्द्र बनाए गए थे, जहां 1193 मतदाताओं को वोट देना था। स्नातक निर्वाचन के लिए 16,432 मतदाताओं के लिए 12 मतदान केन्द्र और 25 मतदेय स्थल बनाए गए थे। सुबह आठ बजे से मतदान का समय था। बावजदू इसके सुबह के समय केन्द्रों पर सन्नाटा पसरा हुआ था। शुरुआत में प्रत्याशियों के एजेंटों ने वोट डाले। उसके बाद जैसे-जैसे दिन चढ़ता गया मतदाता आते रहे। शुरुआत में धीमी मतदान प्रगति के कारण सुबह दस बजे तक शिक्षक निर्वाचन के लिए 8.98 फीसदी तो स्नातक निर्वाचन के लिए 4.36 फीसदी ही वोट पड़े। दोपहर से वोटिंग की रफ्तार कुछ तेज हुई। जिले के घोरावल, रेणकूट, म्योरपुर, दुद्धी, चतरा आदि क्षेत्रों में बने मतदान केन्द्रों पर भीड़ नजर आने लगी। इसका परिणाम रहा कि अपराह्न तीन बजे तक शिक्षक निर्वाचन में 67.90 फीसदी वोटिंग हो गई तो स्नातक निर्वाचन में यह आंकड़ा 39.80 फीसदी तक पहुंच गया। शाम पांच बजे तक वोटिंग का समय निर्धारित था। लिहाजा, अपराह्न के बाद मतदाताओं ने वोटिंग के लिए लाइन लगानी शुरू कर दी। उप जिला निर्वाचन अधिकारी/एडीएम योगेन्द्र बहादुर सिंह के अनुसार शाम पांच बजे मतदान खत्म होने तक शिक्षक निर्वाचन के लिए कुल 72.25 फीसदी वोटिंग हुई तो वहीं स्नातक निर्वाचन के लिए मतदान प्रतिशत 44.83 रहा।

अल सुबह से ही केन्द्र पर पहुंच गए एजेंट

सोनभद्र। एमएलसी चुनाव में शिक्षक और स्नातक निर्वाचन के लिए खड़े प्रतयाशियों के एजेंट मतदान शुरू होने का समय सुबह आठ बजे से काफी पहले ही मतदान केन्द्रों पर पहुंच गए। उनकी मौजूदगी में मतदान कार्मिकों ने उन्हें दिखाकर मतदान के लिए बैलेट बॉक्स रखा। उसके बाद एजेंटगण अपने-अपने प्रत्याशियों के पक्ष में ज्यादा से ज्यादा वोटिंग की व्यवस्था में लग गए।

अधिकारी करते रहे चक्रमण

सोनभद्र। एमएलसी चुनाव के लिए हो रहे मतदान का जायजा लेने के लिए दिन भर वरिष्ठ अधिकारी चक्रमण करते रहे। इसके अलावा मतदान केन्द्रों की निगरानी में तैनाती जोनल और सेक्टर मजिस्टे्रट पर भी जायजा लेते रहे। जिला निर्वाचन अधिकारी/डीएम एस राजलिंगम ने सुबह ही राबर्ट्सगंज स्थित मतदान केन्द्र पर पहुंच कर यहां मौजूद सदर एसडीएम डॉ. केएस पाण्डेय से जानकारी ली। यहां पर व्यवस्थाओं को देखा। उसके बाद वह अन्य मतदान केन्द्रों का जायजा लेने के लिए निकल पड़े। उप जिला निर्वाचन अधिकारी/एडीएम योगेन्द्र बहादुर सिंह भी दिन भर मतदान केन्द्रों का चक्रमण कर जायजा लेते रहे।

सुरक्षा व्यवस्था रही सख्त, कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन

सोनभद्र। एमएलसी चुनाव के दौरान सभी मतदान केन्द्रों पर सुरक्षा व्यवस्था सख्त रही। पुलिस कर्मियों सहित अधिकारियों की तैनाती रही। समय-समय पर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी चक्रमण कर जायजा लेते रहे। उधर, सभी मतदान केन्द्रों पर कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन भी किया गया।

स्नातक निर्वाचन के लिए जिले में बने 12 और शिक्षक के लिए बने नौ मतदान केन्द्रों पर हालांकि एक दिन पहले से ही फोर्स की तैनाती कर दी गई थी। मंगलवार को मतदान शुरू होने से पहले आवश्यकतानुसार अतिरिक्त फोर्स भी तैनात की गई। इसके अलावा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी अपने-अपने क्षेत्र में स्थित मतदान केन्द्रों का समय-समय पर चक्रमण करते हुए जायजा लेते रहे।उधर, सभी मतदान केन्द्रों पर कोविड-19 के प्रोटोकाल का सख्ती से पालन किया गया। मतदान केन्द्रों पर कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए मतदाताओं का मतदान करने से पहले थर्मल स्कैनिंग की गई। इस जांच के बाद ही उन्हें मतदान कक्ष में प्रवेश दिया गया। जिन केन्द्रों पर लाइन लगी रही, वहां सामाजिक दूरी का पालन सख्ती से कराया गया। इसके अलावा मतपत्र देने से पहले मतदाताओं को सेनिटाइजेशन करने के साथ ही दस्ताना व ट्रिपल लेयर मास्क उपलब्ध कराते हुए निष्पक्ष मतदान कराने की व्यवस्था की गई।

स्ट्रांग रूम में पहुंची मतपेटियां

सोनभद्र।जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी एस राजलिंगम ने बताया कि सोनभद्र जिले में उत्तर प्रदेश विधान परिषद द्विवार्षिक निर्वाचन, 2020 वाराणसी खण्ड स्नातक व शिक्षक निर्वाचन, 2020 का मतदान सकुशल सम्पन्न होने के बाद स्नातक निर्वाचन व शिक्षक निर्वाचन की सभी मतपेटियां कलक्ट्रेट परिसर में अस्थायी रूप से बनाये गये स्ट्रॉग रूम में सुरक्षित रखवा दी गई हैं। भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुरूप सभी मतपेटियों का मिलान करने के बाद वाराणसी में होने वाली मतगणना के लिए अभेद्य कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में वाराणसी भेजने के लिए व्यवस्था की गयी। ज्ञातव्य हो कि वाराणसी खण्ड स्नातक व खण्ड शिक्षक निर्वाचन की मतगणना वाराणसी में 03 दिसम्बर को होगी।

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x