सूर्योपासना के महापर्व छठ पर व्रती महिलाओं ने आस्था के साथ नदियों, सरोवरों के घाटों सूर्य को अर्घ्य देकर सुख समृद्धि की कामना की

Crime journalist(संपादक-सेराज खान)

प्रिंस कुमार सिन्हा-संवाददाता बीजपुर (सोनभद्र)

सूर्योपासना के महापर्व छठ पर व्रती महिलाओं ने आस्था के साथ नदियों, सरोवरों के घाटों सूर्य को अर्घ्य देकर सुख समृद्धि की कामना की।

बीजपुर (सोनभद्र)सूर्योपासना के महापर्व छठ पर शुक्रवार को व्रती महिलाओं ने आस्था के साथ नदियों, सरोवरों के घाटों पर पुत्रों और अपने परिवार के सदस्यों के साथ पहुंच कर स्नान के बाद पूजन बाद व्रती महिलाओं ने शाम को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देकर सुख समृद्धि की कामना की।

इस दौरान दीप प्रज्ज्वलित होने के बाद घाट रोशन हो उठे व्रती महिलाओं के अलावा बड़ी संख्या में लोग पूजा का मनोहारी दृश्य देखने और मत्था टेकने के लिए पहुंचे थे सड़कों से लेकर नदियों और तलाबों के घाटों पर धूमते नजर आए
क्षेत्र के दुधईया मंदिर, शिव मंदिर , जरहा अजीरेश्वर धाम , पिंडारी के बिच्छी नदी, सहित कई स्थानों के नदियों तालाबों के घाटों पर बनाई गई वेदियों पर व्रती महिलाओं ने अपनी मन्नत को पूरा करने के लिए दीप जलाकर बिधि बिधान से पूजन किया।
व्रती महिलाओं ने कमर तक जल में खड़ा होकर अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया इस दौरान गुरुवार को हर तरफ छठ्ठी माई के मंगल गीत से समूचा इलाका नदी घाट, बाजार , चट्टी , चौराहा गुंजायमान हो गया। कोविड-19 के मद्देनजर व्रती और उनके परिजन सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का प्रयोग करते हुए पूजा कर रहे थे। घर से लेकर घाट तक चारो तरफ मेले जैसा माहौल रहा सिर पर दउरा लेकर पहुंची व्रती महिलाओं ने षष्ठी माता की वेदी पर साष्टांग दंडवत कर दीप जलाया तो किसी ने आंचल से रास्तों की धूल बटोर कर अपनी श्रद्धा से दीप प्रज्वलित किया स्वच्छ घाटो पर मेले जैसा माहौल रहा।
व्रती महिलाओं के साथ परिवार के लोग भी सिर पर दउरा लेकर पूजा के लिए घाटों पर पहुंचे ढोलक तथा अन्य वाद्य यंत्रों की धुन पर मंगल गीत गाते हुए महिलाओं की टोली घाटों की तरफ बंढ़ रही थी शाम चार बजे से ही घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ जुटनी शुरू हो गई थी सभी ने विधि विधान से छठ माता की पूजा कर हर व्रती महिलाओं ने सिंदूर का लंबा टीका लगाकर पूजन अर्चन किया
नदियों तलाबों में खड़ी होकर महिलाओं ने भगवान को अघर्य दिया अर्घ्य देने के बाद घाट से जलता हुआ दीपर लेकर घर वापस लौंटी छठ माता की पूजा के लिए सुबह से घरों में तैयारी चल रही थी दउरा फल और पूजा सामग्री सजाने के साथ सामानों को जुटाने में महिलाएं जुटी रहीं भगावन भाष्कर को अर्घ्य देने के लिए सभी स्थानों पर दोपर तीन बजे से ही भीड़ जुटने लगी थी।
इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था को लेकर थाना प्रभारी निरीक्षक बीजपुर एस बी यादव ,उपनिरीक्षक जय प्रकाश श्रीवास्तव, आरक्षी सर्वेश कुमार दुबे,महिला आरक्षी दीपा सभी छट घाटो पर घूमते नजर आए और अन्य सुरक्षा कर्मी जगह जगह तैनात रहे ।

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x