मध्यप्रदेश के आनंद प्रकाश चौकसी ने अपनी पत्नी के लिए ताजमहल जैसा आलीशान घर (मकबरा) बनवाया आगरा में असली ताजमहल बनवाने वाले चार बेगमों के शोहर मुगल बादशाह शाहजहां को बेटे ने ही कैद में डाल दिया था

क्राइम जर्नलिस्ट(टीम)

मध्यप्रदेश के आनंद प्रकाश चौकसी ने अपनी पत्नी के लिए ताजमहल जैसा आलीशान घर (मकबरा) बनवाया। आगरा में असली ताजमहल बनवाने वाले चार बेगमों के शोहर मुगल बादशाह शाहजहां को बेटे ने ही कैद में डाल दिया था।

आखिर भारतीय अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा और अमरीकी सिंगर निक जोनस से शादी टूट गई।
================
मध्य प्रदेश।मध्यप्रदेश के बुरहानपुर में रहने वाले आनंद प्रकाश चौकसी ने अपनी पत्नी के लिए ताजमहल जैसा घर बनवाया है। चौकसी ने ताज महल जैसा घर क्यों बनवाया यह तो वे ही जाने, लेकिन उम्मीद की जानी चाहिए कि चौकसी एक ही पत्नी के पति होंगे और ईश्वर से प्रार्थना है कि उनके बेटे उन्हें कैद में नहीं रखेंगे। सब जानते हैं कि आगरा स्थित ताजमहल एक खूबसूरत इमारत है, लेकिन इसमें मुगल बादशाह शाहजहां की चार चार बेगमें दफन हैं, इसलिए ताजमहल को मकबरा कहा जाता है। इस मकबरे को देखने के लिए ही देश विदेश से लोग आते हैं। बुरहानपुर में ताजमहल जैसा घर बनवाने के बाद चौकसी के परिवार में कितनी शांति रहेगी, यह ईश्वर ही जानता है, लेकिन शाहजहां को तो उसके बेटे औरंगजेब ने ही कैद में डाल दिया था। इतिहास में लिखा है कि औरंगजेब ने पहले अपने भाई की हत्या की और फिर शाहजहां को मकबरा वाले ताजमहल के सामने बने शाहबुर्ज किले में 8 वर्ष तक कैद रखा। इसी किले में 5 जनवरी 166 में शाहजहां का इंतकाल हो गया। चौकसी ने तो ताज महल जैसा घर तीन वर्ष में तैयार कर लिया, लेकिन शाहजहां ताजमहल बनवाने में 22 वर्ष लगे। ताज महल के निर्माण की शुरुआत 1630 ईसवी में हुई थी। चौकसी अपने ताज महल का उपयोग क्या करेंगे, यह वही जाने, लेकिन आगरा के ताजमहल में शाहजहां की बेगमें मुमताज, इज्जुनिशां, फतेहपुरी और खंदारी दफन हैं। मुमताज की ख्वाइश पर ही शाहजहां ने ताजमहल का निर्माण करवाया था। हमारे आनंद प्रकाश चौकसी ने ताज महल जैसा घर बनवाकर बहुत खुश हो रहे हैं। अखबारों में उनके घर के फोटो भी छप रहे हैं। लेकिन इतिहास गवाह है कि आगरा में ताजमहल बनवाने वाला शाहजहां अपने धर्म के प्रति कट्टर था। मुसलमानों में भी उसका झुकाव शियाओं के प्रति रहा। शाहजहां को सुन्नियों के प्रति पक्षपाती माना जाता था। भारत की सनातन संस्कृति अपने आप में बहुत समृद्ध है और हमारे यहां आश्रम व्यवस्था भी स्वर्ग जैसी है। इसे सनातन संस्कृति का बड़प्पन ही कहा जाएगा कि आनंद प्रकाश चोकसी मकबरा जैसा घर बनवाने के बाद भी स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।
प्रियंका और निक की शादी टूटी:
भारत की फिल्म अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा ने तीन वर्ष पहले अमरीकी सिंगर निक जोनस के साथ धूमधाम से शादी की। पश्चिम की संस्कृति के अनुरूप दोनों के किस वाले फोटो भी खूब वायरल हुए। प्रियंका ने यह दिखाने की कोशिश की कि वह भी पश्चिम की खुली संस्कृति में रंग गई है, लेकिन इस संस्कृति के रंग का असर तीन वर्ष में ही खत्म हो गया। अब प्रियंका ने अपने ट्विटर और इंस्टाग्राम से जोनस सरनेम हटा दिया है। यानी अब प्रियंका फिर से प्रियंका चौपड़ा हो गई है। प्रियंका को उम्मीद होगी कि विवाह के बाद निक उन्हें ही पत्नी मानेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। सब जानते हैं कि निक और प्रियंका की उम्र में भी करीब 10 वर्ष का अंतर है। प्रियंका 10 वर्ष बड़ी है। प्रियंका पश्चिम की खुली संस्कृति में कितनी रंगी, वह तो वही जाने, लेकिन निक ने पूरब की संस्कृति स्वीकारने से मना कर दिया। निक के चाल चलन को देखते हुए ही प्रियंका ने शादी को समाप्त करने का निर्णय लिया है। वैसे प्रियंका के लिए यह उपलब्धि है कि निक उन्हें तीन वर्ष तक पत्नी मानता रहा। असल में सनातन संस्कृति में शादी के अपने मायने हैं। यहां तो पति के लिए करवा चौथ का व्रत भी किया जाता है, जबकि पश्मिच की संस्कृति में तो करवे (मिट्टी का पात्र) का उपयोग नशीले पदार्थ के सेवन के लिए होता है। शादी जैसे पवित्र बंधन में दो अलग अलग संस्कृतियों का मेल होना बहुत मुश्किल होता है। आखिर प्रियंका भी तो भारत की सनातन संस्कृति में पली हैं। कोई फिल्म अभिनेत्री बन जाने से अपनी संस्कृति भूली नहीं जाती। यह माना कि इस समय प्रियंका बहुत दुखी होंगी, लेकिन प्रियंका को इस घटना से सबक लेना चाहिए। अब देखना है कि तलाक में प्रियंका को निक से क्या मिलता है अमरीका में तो तलाक आम बात है।

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x