भुखमरी की तरफ बढ़ रहा अफगान

क्राइम जर्नलिस्ट(टीम)


अफगानिस्तान को भुखमरी और जन स्वास्थ्य संकट से बचाने के लिए 60 करोड़ डॉलर यानी करीब साढ़े 4 हजार करोड़ रुपये की मदद का ऐलान किया था

देश/विदेश।एजेंसियां, नई दिल्ली-अमेरिका ने सोमवार को ऐलान किया है कि वह अफगानिस्तान को 6.4 करोड़ डॉलर यानी करीब 470 करोड़ रुपये की मानवीय सहायता भेजेगा। इससे पहले संयुक्त राष्ट्र ने भी अफगानिस्तान को भुखमरी और जन स्वास्थ्य संकट से बचाने के लिए 60 करोड़ डॉलर यानी करीब साढ़े 4 हजार करोड़ रुपये की मदद का ऐलान किया था।

बता दें कि अमेरिका जब तक अफगानिस्तान में था वहां हर दिन युद्ध पर करीब 30 करोड़ डॉलर खर्च कर रहा था। बाइडेन प्रशासन ने अभी तक तालिबान सरकार को आधिकारिक मान्यता नहीं दी है।

‘द हिल’ की खबर के मुताबिक, यह सहायता राशि यूएस एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट और यूएस विदेश मंत्रालय की ओर से दी जाएगी, जिसे संयुक्त राष्ट्र और अन्य स्वतंत्र संस्थाओं के जरिए अफगानिस्तान तक पहुंचाया जाएगा।

इस धनराशि को आवंटित करने के बाद इस साल अफगानिस्तान को दी जाने वाली अमेरिकी मानवीय सहायता 33 करोड़ डॉलर तक पहुंच गई है। अमेरिका अब अफगानिस्तान को डोनेशन देने वाला सबसे बड़ा सहयोगी बन गया है।

‘भुखमरी की तरफ बढ़ रहा अफगान’
तालिबान के कब्जे के बाद अफगानिस्तान अब भुखमरी की तरफ बढ़ रहा है। बुधवार को यूनाइटेड नेशन के अधिकारी ने इस संबंध में चेताते हुए कहा कि अफगानिस्तान में इस महीने के बाद जबरदस्त भुखमरी की स्थिति आ सकती है। यूएन अधिकारी ने कहा कि जिस तरह की चुनौतियों से अभी अफगानिस्तान गुजर रहा है उससे वहां खाने की किल्लत पैदा हो सकती है। स्थानीय मानवीय समन्वयक रमीज़ अलाकबारोव ने कहा कि देश की एक तिहाई आबादी आपातकालीन स्थिति का सामना कर रही है या फिर खाद्य असुरक्षा का सामना कर रही है। सर्दी का मौसम आ रहा है और देश सूखे का सामना कर रहा है ऐसे में अफगानिस्तान को काफी पैसों की जरुरत पड़ेगी ताकि लोगों को यहां भुखमरी से बचाया जा सके।

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x