धुं-धुं कर जला अहंकारी रावण

क्राइम जर्नलिस्ट(टीम)

धुं-धुं कर जला अहंकारी रावण।

दुद्धी सोनभद्र/ दुद्धी कोतवाली अंतर्गत क्रिकेट ग्राउंड ,रामलीला मैदान पर असत्य पर सत्य की विजय का महापर्व विजयादशमी वैश्विक महामारी करोना के गाइडलाइन का पालन करते हुए रामलीला कमेटी दुद्धी के तत्वाधान में और रामलीला नाट्य कला परिषद मंडली के कलाकारों के द्वारा मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम चंद्र जी, लक्ष्मण, भरत ,शत्रुघ्न, हनुमान जी नल ,नील और बांदरी सेनाओं के द्वारा रावण का वध प्रशासन के सुरक्षा घेरे में मां दुर्गा की मनोरम झांकियों और 33 करोड़ देवी देवताओं को साक्षी मानकर रावण का वध किया गया।

सैकड़ों वर्षो की सनातन परंपरा का पालन उत्तर प्रदेश सरकार के गाइड लाइन के अनुसार उप जिलाधिकारी दुद्धी रमेश कुमार पुलिस क्षेत्राधिकारी रामाशीष यादव के द्वारा सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर नगर में दिनभर चक्रमण करते रहे। दुद्धी के धार्मिक आयोजन में पूजा समितियों का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

श्री रामलीला कमेटी के दिशा निर्देश पर शांति पूर्वक त्यौहार संपन्न दुद्धी मे हुआ। पुतला दहन के समय किसी भी प्रकार की कोई आतिशबाजी नहीं की गई और सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रही कोई भी मेले परिसर में दुकान नहीं लगाए गए। पंचदेव मंदिर, मां काली मंदिर, संकट मोचन मंदिर, रामनगर शिव मंदिर, आदि मंदिरों की झांकियां भक्तजनों और पूजा समितियों के द्वारा आस्था के साथ सजाई गई थी। तहसील के मुख्य गेट पर भी प्रशासन के लोग उप जिलाधिकारी की मौजूदगी में उपस्थित रहे। प्रभारी निरीक्षक कोतवाली दुद्धी पंकज कुमार सिंह एसआई वंश नारायण यादव, सुधीर कुमार, आदि दल बल के साथ मौजूद रहे।

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x