कोरोना संक्रमण के बीच देश में एक अच्छी खबर आई है। सरकार ने बताया है कि देश में रिकवरी रेट बढ़ा है और एक्टिव केस में कमी आई

क्राइम जर्नलिस्ट(टीम)

कोरोना संक्रमण के बीच देश में एक अच्छी खबर आई है। सरकार ने बताया है कि देश में रिकवरी रेट बढ़ा है और एक्टिव केस में कमी आई।

नई दिल्ली।कोरोना संक्रमण के बीच देश में एक अच्छी खबर आई है। सरकार ने बताया है कि देश में रिकवरी रेट बढ़ा है और एक्टिव केस में कमी आई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने शुक्रवार को बताया कि हम 3 मई से रिकवरी दर में वृद्धि देख रहे हैं, जो अब 96% है। उन्होंने कहा कि हम सक्रिय मामलों (एक्टिव केसों) में भी गिरावट देख रहे हैं। 11 जून से 17 जून के बीच 513 जिलों में कुल पॉजिटिव केस 5% से भी कम थे। लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटे में देश में 62,480 नए मामले सामने आए हैं। पिछले 11 दिनों से एक लाख से कम मामले रिपोर्ट हो रहे हैं. कोरोना मामलों के पीक में 85% की कमी देखी गई है।

नीति आयोग (स्वास्थ्य विभाग), के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने बताया है कि स्टडी से पता चला है कि जिन्होंने वैक्सीन का डोज लिया है उनके अस्पताल में भर्ती होने या बीमार पड़ने की संभावना 70-80 प्रतिशत तक कम है। सरकार के मुताबिक ऐसे लोगों को बीमार पड़ने पर ऑक्सीजन के जरुरत पड़ने की संभावना भी 8 फीसदी के आसपास है। वैक्सीन लेने वाले लोगों के आईसीयू में भर्ती होने का खतरा महज 6 प्रतिशत ही है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा, ‘पिछले 24 घंटे में देश में 62 हज़ार 480 नए मामले सामने आए हैं। पिछले 11 दिनों से एक लाख से कम मामले रिपोर्ट हो रहे हैं। कोरोना संक्रमण के मामलों के पीक में 85 फीसदी की कमी देखी गई है।’ उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 7 लाख 98 हज़ार 656 हो गई है। पिछले 3 दिनों में सक्रिय मामलों में 1 लाख 14,000 की कमी आई है। अब रिकवरी दर बढ़कर 96 फीसदी हो गई है. हम हर रोज़ 18.4 लाख कोरोना टेस्ट कर रहे हैं।

सेराज खान / गोविन्द अग्रहरि / नितेश पाण्डेय / श्याम अग्रहरि

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x